BHIM App रेफर करने पर मिलेगा 10 रुपये का इनाम

By | June 18, 2017

भीम ऐप पर आधार सेवा को नागपुर में लॉन्च करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा, ‘एक समय था जब लोग अंगूठे के निशान को अनपढ़ होने से जोड़ते थे। लेकिन, तकनीक ने आज अंगूठ को ताकत का स्रोत बना दिया है। लोग अपने फोन पर अंगूठे का इस्तेमाल कर रहे हैं, जो कैशलेस इकॉनमी के लिए बड़ी बात है।

इस मौके पर पीएम मोदी ने किसी यूजर की ओर से अन्य शख्स को भीम ऐप डाउनलोड के लिए रेफर किए जाने पर 10 रुपये का इनाम दिए जाने का भी ऐलान किया।

अब BHIM APP से घर बैठे 200 रुपये रोज पैसे कमा कमाए

BHIM APP से घर बैठे 200 रुपये रोज पैसे कमा कमाए

डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने ओर इंडिया को कैशलेस बनाने के लिए हमारे माननीय प्रधान मंत्री द्वारा कल ये घोषणा की गयी की, अब कोई भी व्यक्ति BHIM App के प्रचार से घर बैठे पैसे कमा सकता है. नागरिक गण को बस इतना सा करना होगा की अपने फैमिली को या अपने पहचान वालो को BHIM app से रेफरल लिंक को शेयर करके उन्हें भीम एप्प के बारे में समझा कर इनस्टॉल करवाना होगा.

डॉ. भीमराव आंबेडकर की दीक्षाभूमि कहे जाने वाले नागपुर में पीएम मोदी ने कहा, ‘यदि आप भीम ऐप से किसी को जोड़ते हैं तो संबंधित व्यक्ति की ओर से तीन ट्रांजैक्शंस किए जाने के बाद आपके खाते में 10 रुपये आ जाएंगे। यह स्कीम इस साल 14 अक्टूबर तक जारी रहेगी।’

भीम-आधार ऐप के लिए फोन और बैंक कार्ड की जरूरत नहीं है। इसके अलावा साक्षर होना भी इसके लिए जरूरी नहीं है। किसी भी कस्टमर की पेमेंट हासिल करने के लिए मर्चेंट का आधार कार्ड और अंगूठे का निशान ही काफी होगा।

Bhim App Refer and Earn :Free Rs. 25 Sign Up Bank Balance + Rs.10/Referral

पीएम मोदी ने कहा कि भीम ऐप को रोका नहीं जा सकता। मोदी बोले, ‘यदि कैशलेस इकॉनमी एक रथ है तो भीम ऐप उसका सारथी है। इसे रोका नहीं जा सकता।’ उन्होंने कहा कि ऐसा दिन आएगा, जब लोगों की जेब में पैसे नहीं होंगे और वह हर जगह आते-जाते दिखेंगे। पीएम मोदी ने कहा, ‘हम देखते हैं कि एक एटीएम की सुरक्षा में 5 पुलिसकर्मी लगे होते हैं। यदि हम कैश में बहुत ज्यादा डील नहीं करते हैं तो आपका मोबाइल ही एटीएम बन जाएगा। वह दिन ज्यादा दूर नहीं है, जब बैंकों का कोई परिसर नहीं होगा और न ही पेपर होंगे।’

Bhim App Refer and Earn

यूं काम करेगा भीम ऐप

कारोबारियों को भीम ऐप अपने स्मार्टफोन पर डाउनलोड करना होगा। यह एक बॉयोमीट्रिक रीडर से जुड़ा होगा, जिसकी कीमत बाजार में 2000 रुपये है। ग्राहक ऐप में अपना आधार नंबर और बैंक का नाम डालेंगे। उसके बाद बॉयोमीट्रिक स्कैन का पासवर्ड के रूप में इस्तेमाल करके उपभोक्ता भुगतान कर सकेंगे।

आधार कार्ड बनाने वाली संस्था यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) के सीईओ अजय भूषण ने बताया कि उपभोक्ता बगैर किसी फोन के भुगतान कर सकेंगे। पांडे ने बताया कि करीब 40 करोड़ आधार कार्ड को बैंक खातों से जोड़ा जा चुका है। सरकार ने मार्च 2017 तक सभी आधार कार्ड को बैंक खातों से जोड़ने का लक्ष्य रखा है।

जिससे व्यक्तिओ राष्ट्रनिर्माण में तो सहयोग कर ही रहा है, साथ ही साथ उपभोक्ता को कुछ पैसे भी मिले गए भारत सरकार की ओर से. आज ही अपने दोस्तों ओर रिश्तेदारों को BHIM App के बारे में बताओ ओर रेफरल लिंक के माध्यम से एप्प डाउनलोड करवा कर ट्रांजेक्शन करने को कहे. देश के विकास में एक कदम बढ़ाने का वक़्त आ गया है.  🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *